कहीं लिए 8 फेरे तो कहीं बिन बाराती आई बारात , क्या कभी देखी है ऐसी शादी?

 दोस्तो जैसे ,- जैसे समय बदल रहा है वैसे – वैसे लोग समझदार हो रहे है । पहले लोग शादियों  में खूब  पैसा खर्च  करते थे लेकिन अब ऐसा नहीं है , अब लोग शादी के कार्यक्रम में कम पैसा खर्च करके एक अच्छी शादी का उदाहरण देते है । दोस्तो आज हम आपको ऐसी ही 5 शादियों का उदाहरण देने जा रहे है जिनको जान लेने के बाद आप स्वयं बोलेंगे की हां सच में समय बदल रहा है।

दोस्तो पहली शादी जिसकी हम  बात करने जा रहे है ये हरियाणा के रेवड़ी इलाके के प्रॉपटी डीलर सूबे सिंह के बेटे  कुलदीप ने स्टेशन सुपरिडेंट कैलाश चंद की बेटी श्वेता यादव  के साथ शादी के बंधन में बंध गये  ।  दोस्तो इस शादी की खास बात ये थी कि कुलदीप ने दहेज के नाम पर सिर्फ एक रुपये लिया था  । दोस्तो ये शादी बहुत ही शांति पूर्वक सम्पन्न हुई क्योंकि इस शादी में   बहुत कम लोगो को बुलाया गया था और  शादी का भोजन भी बहुत सिंपल बनाया गया।

दोस्तो दूसरी शादी की बात करे तो  पंजाब  के भादसों के ही जो कि काफी चर्चा में है क्योंकि इस शादी में ना तो ज़्यादा लोगो को बुलाया गया था और ना ही बैंड बाजे बजवाये गये। दोस्तो इस शादी में दूल्हा दुल्हन को सजया नहीं गया था बल्कि दोनो ने सिर्फ पगड़ी पहनी हुई थी ।  दोस्तो ये शादी  आस्ट्रेलिया निवासी इन्दरवीर सिंह खालसा का विवाह हरमनप्रीत कौर के साथ सम्पन्न हुई।

दोस्तो हम अब तीसरी शादी की बात करने जा रहे है जो कि हरियाणा की  आदमपुर की है जो कि  चर्चा के विषय मे इसलिए है क्योंकि ये शादी सिर्फ 16 मिनट में सम्पन्न हो गयी ।दोस्तो इस शादी में लड़का एयर फोर्स  अफसर है और लड़की कानपुर से बीटेक की हुई है । इस शादी में   ना ही किसी भी प्रकार  का कोई लेनदेन हुआ और ना ही  ज़्यादा रिश्तेदार बुलाये गये।

दोस्तो हम आपको  चौथी शादी के बारे में बताने जा रहे है ये भी काफी चर्चा का विषय बनी हुई  है क्योंकि इस शादी मे आठवें फेरे के रूप में दूल्हे ने रक्त दान किया  । दोस्तो आप लोगो की जानकरी के लिए बता दिया जाये कि  दूल्हा अमित पेशे से दिल्ली पुलिस में सिपाही है और दुल्हन मंजू महिला विश्वविद्यालय खानपुर में लेक्चर है ।

दोस्तो अब हम आपको पांचवी शादी के बारे में बताने जा रहा है जो कि काफी चर्चा का विषय बनी हुई है क्योंकि इस शादी में 7 फेरो 7 चीजो की प्रतिज्ञा ली गयी । वो प्रतिज्ञा कुछ इस प्रकार है प्रतिज्ञाएं: बेटी बचाएंगे और बेटी पढ़ाएंगे। जन्मदिन व सालगिरह पर पीपल, वट व नीम में से एक पेड़ जरूर लगाएंगे। घर में एक गाय जरूर पालेंगे और उसकी सेवा करेंगे। घर में तुलसी का पौधा अवश्य लगाएंगे। गरीब कन्याओं की शिक्षा में सहयोग देंगे। जल को दूषित नहीं करेंगे। कभी भी ना रिश्वत लेंगे और ना देंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *