9 बार सरकारी नौकरी ठुकरा चुकी है प्रमिला नेहरा सपना है सिर्फ…….

दोस्तो हर कोई अपनी ज़िंदगी मे अपने पैर पर खड़ा होना चाहता है जिसके लिये वो दिन रात मेहनत करते है । दोस्तो आज भी कई सारे लोगो की यही चाहत होती है कि उन्हें कोई अच्छी से नौकरी मिल जाये  और ऊपर से अगर सरकारी नौकरी मिल जाये तो क्या कहने ।

लेकिन दोस्तो वर्तमान समय मे बेरोजगारी बहुत ज़्यादा है साथ मे कॉम्पिटिशन बहुत ज़्यादा । आप ये सोचिए कि हाल ही में ग्रेड 4 में भृत्य की  50 पोस्ट  पीएचडी किया हुई छात्र यहाँ तक कि इंजीनियर तक ने इस परीक्षा पर फॉर्म डाला था। इस  50 पोस्ट पर 2 से 3 लाख लोगो ने फॉर्म डाला था अब आप समझ चुके होंगे कि जॉब को लेकर कितनी मारा मारी है। 

आज के समय मे हर कोई सरकारी नौकरी कारण चाहता है क्योंकि उससे सरकारी नौकरी काफी सेफ लगती है लेकिन दोस्तो सरकारी नौकरी करने  के लिये कितने पापड़ बेलने पड़ते है ये आप सभी को पता है । सरकारी नौकरी करने के लिये दिन रात मेहनत करने के बाद भी सरकारी नौकरी लगने की कोई गारेंटी नही होती है।

लेकिन दोस्तो अगर किसी को 9 बार सरकारी नौकरी मिलने के बाद भी छोड़ दे तो आप यही कहेंगे कि भला कोई ऐसा क्यों करेगा लेकिन दोस्तो ऐसा सच में हुआ है । दोस्तो असल  में ये घटना राजस्थान के  सीकर जिले के रहने वाली  प्रमिला नेहरा की है जिनकी अब तक मे 9 बार सरकारी नौकरी लग चुकी है लेकिन उन्होंने हर बार जॉब छोड़ दी  । 

दोस्तो प्रमिला नेहरा एक किसान परिवार से बिलोंग करती है साथ मे वो विवाहित भी है । जानकारी के लिये बता दिया जाये तो दोस्तो प्रमिला के 2015 में पहली बार सरकारी नौकरी पास की थी जिसके बाद 2021 तो उन्होंने कुल 9 सरकारी नौकरी के एग्जाम पास किये है जिसमे उन्होंने ने व्याख्याता भर्ती परीक्षा से लेकर पटवारी, ग्रामसेवक, महिला पर्यवेक्षक, पुलिस कांस्टेबल, एलडीसी की परीक्षा को आसानी से पास की है। 

वही जानकारी के लिये बता दिया जाये कि प्रमिला नेहरा   वर्तमान समय मे नागौर जिले  के एक स्कूल में वरिष्ठ अध्यापक के रूप में पदस्थ है। प्रमिला नेहरा ने ये नौकरी  राज्य सेवा आयोग के द्वारा व्याख्याता भर्ती में प्रथम श्रेणी शिक्षक  की परीक्षा दी  थी जिसमे उन्होंने पूरे राज्य में  9वीं रैंक पाई थी जिसके बाद इसी  पद पर वो नौकरी कर रही है  लेकिन प्रमिला नेहरा जल्द ही इस नौकरी को अलविदा कहने वाली है।

दोस्तो जब प्रमिला नेहरा से इस विषय में पूछा गया तो उन्होंने ने बताया कि उन्हें अध्ययन में काफी रुचि है जिस कारण से उनका ज़्यादा समय अध्ययन में गुजरता है । जब प्रमिला से परीक्षा के विषय मे पूछा गया तो प्रमिला ने बताया कि सभी प्रतियोगी परीक्षा का सिलेबस एक सा होता है इसलिये उन्हें किसी भी परीक्षा को निकालने में ज़्यादा समस्या नहीं होती है।

वही जब उनसे ये परीक्षा पास करने की टिप मांगी गयी तो उन्होंने कहा  किसी भी चीज को रटने की जगह समझे क्योंकि रटने से इंसान भूल जाता है  वही अगर  किसी विषय  को समझा जाये तो हम आसानी से  चीजे याद रहती है।


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *